logo

एसएसपी प्रहलाद मीणा ने किया बड़ा खुलासा, धोखाधड़ी करने वाली कंपनी का किया भंडाफोड़

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी में एसएसपी प्रहलाद मीणा ने आज धनलक्ष्मी इंटरप्राइजेज के द्वारा की गई धोखाधड़ी के मामले का खुलासा किया है। इस मामले में पुलिस ने एक अन्य अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। उससे पहले एक व्यक्ति गिरफ्तारी पुलिस द्वारा पहले ही की जा चुकी थी।

जनता के साथ लाखों रूपये की धोखाधड़ी करने वाली फर्जी कम्पनी धनलक्ष्मी इंटरप्राइजेज मामले में एसएसपी नैनीताल की टीम के हाथ लगी बड़ी कामयाबी, कार, बोलेरो, एसी, लेपटॉप, सोफा, गीजर, चिमनी सहित 02 को किया गिरफ्तार,

प्रहलाद नारायण मीणा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल द्वारा जनपद आगमन के उपरान्त एस०ओ०जी० / थाना प्रभारियों को धोखाधड़ी मामलों में त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश पर थाना मुखानी पंजीकृत धोखाधडी में पंजीकृत अभियोग के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। थाना मुखानी में दिनांक 14 सितम्बर, 17 सितम्बर, 18 सितम्बर 20237 को बादी क्रमशः भुवन सिंह, निवासी मुखानी, विनय रौतेला निवासी बद्रीपुरा मुखानी, जय कुमार सिंह निवासी अतुल इलेक्टॉनिक मुखानी द्वारा तहरीर के आधार पर धारा 420/406 भादवि के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत किया किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  यहां सीबीआई ने सीपीडब्ल्यूडी के सहायक अभियंता को एक लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों किया गिरफ्तार

वादियों द्वारा बताया कि हमारी दो गाड़ियों जो कि किराये ली गयी उनको कम्पनी के मालिक एवं कर्मचारी धोखाधड़ी कर ले कर भाग गये तथा एसी, लेपटॉप, आरओ व अन्य इलैक्ट्रानिक सामान फर्जी चेक देकर हमारा सामान हड़प लिया।

यह भी पढ़ें 👉  बीजेपी की पुराना प्रदर्शन दोहराने, तो कांग्रेस की जमीन बचाने की लड़ाई ईवीएम में बंद

अपने इलेक्ट्रानिक एवं फर्नीचर शॉप तथा गाडियों को किराये पर लेकर दुकान, फतत्काल विवेचना चौकी प्रभारी आम्रपाली उ0नि० अनील कुमार चौकी प्रभारी लामाचौड़ उ0नि० सुनील गोस्वामी एवं उ0नि० प्रीती को सुपुर्द की गयी। पूछताछ पर बताया कि 5-6 महिने पूर्व धनलक्ष्मी जिसमें जसवाल को मालिक बनाकर कुछ लोगों को ऐजेन्ट बनाते थे उसके ऐजेन्ट द्वारा घर-घर जा कर लोगो को मेम्बरशिप के नाम पर 1500 रूपये सिक्योरिटी के नाम पर जमा कर उन्हें मोती की माला बनाने का कच्चा माल देकर माला बनवाते थे, जिसके एवज में प्रतिदिन 100 रूपये प्रत्येक व्यक्ति को देते थे। जिसके बाद उसी माला को अपने फर्जी कम्पनी कार्यालय में लाकर उन्हें तोड़कर फिर से दुबारा कम्पनी के घाटे में चलने पर इनके द्वारा चैक देकर दुकानों से महँगे महँगे इलैक्टॉनिक एवं अन्य सामान लेकर कम्पनी के नाम का फर्जी चैक देकर सामान लेकर भागने की योजना बनाई तथा अपनी बनाई गई फर्जी धनलक्ष्मी कम्पनी के पार्किंग में खड़ी गाडी नयी बिना नम्बर की मारुती स्विफ्ट कार एवं बोलेरों को भी अपने साथ लेकर इस कृत्य को अंजाम देकर भाग गये।

यह भी पढ़ें 👉  अपडेट हादसा : दो सगे भाइयों समेत चार की हुई मौत, दुग नाकुरी के थे सभी मृतक
Share on whatsapp