logo

बिजली की लाइन ठीक करने गए लाइन मैन की करंट लगने से हुई मौत

खबर शेयर करें -

बेरीनाग कांडे किरौली गांव में बिजली की लाइन ठीक करने के दौरान करंट लगने से लाइनमैन की मौके पर मौत हो गई। धंतोली कांडे निवासी लाइन मैन कमलेश कुमार पुत्र मोहन राम उम्र 40 वर्ष बुधवार देर रात्रि को 9 बजे कांडे किरौली क्षेत्र में बिजली नहीं आने पर ठीक करने के लिए कांडे गांव पहुंचा। यहां वह ट्रांसफार्मर में लाइन ठीक करने के लिए गया। इससे पहले सब स्टेशन में फोन कर शटडाउन भी मांगा। इस दौरान लाइन ठीक करने के लिए वह ट्रांसफार्मर के पास पहुंचा तो 11 हजार केवी लाइन में अचानक करंट आ गया। इससे कमलेश कुमार को करंट लग गया। कमलेश का दायां हाथ पूरी तरह से झुलस गया। शरीर के कई हिस्सों में करंट लगकर जल गया। सूचना मिलते ही परिजन प्राइवेट टैक्सी से कमलेश को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेरीनाग लेकर आये। अस्पताल में डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें 👉  एजुकेशनल मिनिस्ट्रीयल एसोसिएशन की नई कार्यकारिणी का हुआ गठन, गौरव कर्म्याल अध्यक्ष और भुवन जोशी वन सचिव

लाइनमैन की मौत की खबर सुनकर कांडे किरौली से ग्राम प्रधान प्रेमा देवी और जिला पंचायत सदस्य के प्रतिनिधि भूपी कार्की के नेतृत्व में बड़ी संख्या में रात्रि को ग्रामीण सीएचसी बेरीनाग पहुंच गये। वहां पर घटना पर आक्रोश जताते हुए बिजली विभाग के अधिकारियों को जमकर खरी खोटी सुनाई। विभाग पर लापरवाही का आरोप भी लगाया। प्रभारी थानाध्यक्ष चंदन सिंह बिष्ट के नेतृत्व भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। कमलेश की पत्नी अनीता देवी और दो छोटे छोटे बच्चे बेसुध हो गये हैं। कमलेश के बड़े भाई पूर्व ग्राम प्रधान जगदीश राम ने बिजली विभाग पर हत्या का आरोप लगाया है। वही बिजली विभाग के अवर अभियंता दीपक कुमार ने बताया कि शटडाउन के बाद कैसे लाइन में करंट आया, इसकी जांच की जायेगी। जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

यह भी पढ़ें 👉  तन्मय तिवारी बने सेना में अफसर, माता-पिता, परिजनों, और परिचितों का सीना गर्व से चौड़ा
Share on whatsapp