logo

सोराग के ग्रामीणों ने पुल की मांग को लेकर जिला कार्यालय में किया प्रर्दशन

खबर शेयर करें -

पिंडर नदी में पुल निर्माण नहीं होने पर सोराग के ग्रामीणों ने कड़ी आपत्ति जताई है। नाराज ग्रामीणों ने जिला मुख्यालय में प्रदर्शन किया। विभाग तथा ठेकेदार पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया। जल्द पुल का निर्माण नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत सोराग के ग्रामीण ग्राम प्रधान गीता देवी के नेतृत्व में जिला मुख्यालय में पहुंचे। यहां नारेबाजी के साथ प्रदर्शन किया। यहां हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि वर्ष 2000 में पीएमजीएसवाई ने उगियां से सोराग तक 11 किमी सड़क स्वीकृत की। 2023 तक सड़क बनी और डामरीकरण भी हो गया। मोटर मार्ग के बीच में पिंडर नदी में चार करोड़ की लागत से 60 मीटर लंबा मोटर पुल बनना था। पुल के निर्माण के लिए 2021 में निविदा भी हुई। कार्यदायी संस्था वैप्कोस तथा ठेकेदार ने निर्धारित समय पर पुल तैयार करने का बॉड बनाया। विभाग व ठेकेदार की लापरवाही के चलते अभी तक पुल नहीं बन पाया है। कार्यदायी संस्था ने पुल का भुगतान तक कर दिया है। पुल के अभाव में ग्रामीणों को सड़क का भी लाभ नहीं मिल रहा है। इस समस्या को वह सीएम, डीएम व विधायक तक को बता चुके हैं, लेकिन समस्या आज भी जस की तस बनी हुई है। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि जल्द पुल का निर्माण पूरा नहीं हुआ तो वह आंदोलन करेंगे। सभा के बाद डीएम के माध्मय से सीएम को ज्ञापन सौंपा।

Share on whatsapp