logo

कक्षा कक्ष की प्रक्रियाओं को बेहतर बनायें शिक्षक-डॉ. कुंदन सिंह रावत

खबर शेयर करें -

जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान बागेश्वर में जनपद के माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों के सेवारत शिक्षक प्रशिक्षण निष्ठा का प्रारंभ हो गया है। प्रशिक्षण के पहले बैच में विज्ञान तथा गणित विषय के 60 शिक्षक प्रतिभाग कर रहे हैं। कार्यक्रम का शुभारंभ डायट के प्रभारी प्राचार्य डॉ कुंदन सिंह रावत ने किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि सेवारत प्रशिक्षणों के माध्यम से कक्षा-कक्ष में की जाने वाली प्रक्रियाओं को और अधिक सुदृढ बनाने में मदद मिलती है। शिक्षकों को इसका भरपूर लाभ उठाना चाहिए। उद्घाटन सत्र में डीएलएड प्रशिक्षुओं द्वारा आह्वान गीत-हम शिक्षक हैं, शिक्षा की तस्वीर बदल देंगे, को सुमधुर ध्वनि में प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम समन्वयक डॉ. संदीप कुमार जोशी ने बताया कि इन प्रशिक्षणों का उद्देश्य राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 में निहित लक्ष्यों की प्राप्ति हेतु शिक्षकों को प्रेरित करना है। प्रशिक्षण में शिक्षकों द्वारा अपने विषय के कठिन स्थलों का चयन कर समूह में पाठ योजना का निर्माण किया जाएगा। प्रशिक्षण में आईसीटी का उपयोग केंद्रीय भूमिका में रहेगा। द्वितीय चरण में हिंदी अंग्रेजी तथा सामाजिक विज्ञान के शिक्षक प्रशिक्षण में प्रतिभाग करेंगे। कार्यक्रम को डॉ. दया सागर तथा डॉ. हरीश चन्द्र जोशी ने भी संबोधित किया। मास्टर ट्रेनर के रूप में मोहन सिंह धामी, संगम साह, मुकुल बगड़वाल तथा बलवंत सिंह टाकुली कार्य कर रहे हैं। इस अवसर पर श्वेता जोशी, शंकर सिंह राना, कमला टम्टा, प्रमोद जोशी समेत सभी प्रशिक्षणार्थी मौजूद रहे।

Share on whatsapp