logo

प्रदेश में एक बार फिर पकड़े गए दो कथित पत्रकार, कर रहे थे अवैध वसुली

खबर शेयर करें -

रुद्रपुरा जिला विकास प्राधिकरण (डीडीए) के नाम पर अवैध वसूली के आरोप में पुलिस ने दो कथित पत्रकारों को गिरफ्तार किया है। दोनों ने कूटरचित नोटिस दिखाकर भवन बनवा रहे एक व्यक्ति से 12,000 रुपये की अवैध वसूली की थी। पुलिस ने उनके पास से डीडीए की मुहर और 12,000 रुपये बरामद किए हैं। पुलिस ने आरोपियों को न्यायालय में पेश किया। वहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है।

एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने मंगलवार को पुलिस कार्यालय में खुलासा किया। बताया कि डीडीए के सचिव एनएस नबियाल ने उन्हें तहरीर सौंपी थी। इस आधार पर कूटरचित दस्तावेज बनाकर अवैध वसूली के आरोप में अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। मामले की जांच एसएसआई अर्जुन गिरि कर रहे थे।

यह भी पढ़ें 👉  बागेश्वर: सीबीएसई बोर्ड 12वीं और 10वी के परीक्षा परिणाम में कंट्री वाइड पब्लिक स्कूल बागेश्वर के छात्रों का शानदार प्रदर्शन

पुलिस ने इस आरोप में गांधी कॉलोनी निवासी दिव्यांग सलीम खान और मूल रूप से शेखपुरी, मेरठ व हाल निवासी भूतबंगला के वरुण बांध को गिरफ्तार किया है। उनके पास डीडीए के नाम से अकबर टूल्स, गांधी कॉलोनी के खिलाफ कूटरचित नोटिस, इसे तैयार करने में इस्तेमाल की जा रहीं दो मुहर, नौ लिफाफे, 12,000 रुपये, घटना में प्रयुक्त एक बाइक, एक व्हीलचेयर बरामद हुआ।

यह भी पढ़ें 👉  एक जुलाई 2024 से लागू होने वाले तीन नए आपराधिक कानूनों के विषय पर मीडिया कार्यशाला का पुलिस मुख्यालय में किया गया आयोजन

एसएसपी ने बताया कि दोनों आरोपी शातिर अपराधी हैं। वे पत्रकारिता की आड़ में अपनी बाइक में पुलिस का लोगो और पुलिस लिखवाकर अवैध वसूली करते थे। इन दोनों का आपराधिक इतिहास रहा है। सलीम पर नौ और वरुण पर तीन केस दर्ज हैं। अब इन पर गैंगस्टर की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने पुलिस टीम को डेढ़ हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की। वहां एसपी सिटी मजोज कत्याल, सीओ अनुष वडोला आदि थे।

यह भी पढ़ें 👉  जिला अस्पताल बागेश्वर में विश्व नर्सिग डे धूमधाम से मनाया,फ्लोरेंस नाइटिंगेल के कार्यों को भी किया याद
Share on whatsapp