logo

नई शिक्षा नीति नौकरी के बाजार के लिए प्रासंगिक कौशल से लैस

खबर शेयर करें -

बागेश्वर: सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय अल्मोड़ा के पंडित बद्रीदत्त परिसर बागेश्वर में बी०काम प्रथम सेमेस्टर में नए छात्र छात्राओं हेतु अभिविन्यास और इंटरैक्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

वाणिज्य संकाय के तत्वावधान में हुए इस कार्यक्रम में नए छात्र छात्राओं के साथ प्राध्यापकों ने पारस्परिक संवाद के माध्यम से नई शिक्षा नीति के बहुआयामी लाभों के बारे में व्यापक चर्चा की। इस दौरान छात्र छात्राओं ने जीवन मे लक्ष्य निर्धारित करने के गुर सीखे। वाणिज्य संकाय के अध्यक्ष डॉ महावीर प्रसाद शर्मा द्वारा परिसर में पेश की जाने वाली विभिन्न सहपाठी चर्चा और पाठ्य तर गतिविधियों के बारे में उत्साह पूर्वक बात की उन्होंने छात्रों से एक सवागिर्ण व्यक्तित्व विकसित करने के लिए खेल, सांस्कृतिक कार्यक्रमों और अन्य पहलुओं में सक्रिय रूप से भाग लेने का आग्रह किया। उन्होंने नई शिक्षा नीति 2020 द्वारा लाए गए हालिया बदलाव पर प्रकाश डाला और बताया कि कैसे इससे छात्रों को 21वीं सदी के नौकरी बाजार के लिए प्रशासनिक कौशल से लैस करने के लिए डिजाइन किया गया है। उन्होंने बहू विषयक दृष्टिकोण अपनाने के महत्व पर जोर दिया। और छात्रों को विभिन्न विषयों में उनकी रुचि के विषय को आगे बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया इस दौरान वाणिज्य विभाग में कार्यरत प्राध्यापक डॉ फखरुद्दीन ने छात्र छात्रों को कोर और माइनर विषय पर वोकेशनल विषयो के चयन के फायदे बताते हुए कहा कि आत्मनिर्भर भारत की संकल्पना के लिए नई शिक्षा नीति 2020 सार्थक रूप दे सकती है। इस मौके पर डॉ भगवती नेगी, डॉ जीवन सिंह गड़िया, डॉ हेम चन्द्र दुबे, पूजा आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  राज्य में अवैध खनन पर लगाम लगाने के लिए बड़ा फैसला
Share on whatsapp