logo

कुमाऊ कमिश्नर दीपक रावत के आश्वासन के बाद ट्रक एसोसिएशन की हड़ताल हुई खत्म

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी में पिछले दो दिनों से हड़ताल पर गए ट्रांसपोर्ट कारोबारी ने आज कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत से मुलाकात की, जहां उन्होंने कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत, डीआईजी योगेंद्र रावत और आरटीओ संदीप सैनी,एसडीएम परितोष वर्मा से अपनी समस्याओं को लेकर वार्ता की इसके बाद ट्रांसपोर्ट कारोबारियों की कई मांगों पर सहमति बन गयी है कुमाऊं कमिश्नर ने उनकी सभी मांगों पर चर्चा कर उसका समाधान निकलते हुए हड़ताल को खत्म कराया।

दीपक रावत से मिलने पहुंचे ट्रक यूनियन से जुड़े पदाधिकारियों ने कुमाऊं कमिश्नर, आरटीओ, पुलिस प्रशासन और एसडीएम के साथ अपनी मांगे रखी. मांगों में मुख्य रूप से ओवरलोडिंग पर शत प्रतिशत प्रतिबंध लगाना और पुलिस द्वारा अनावश्यक परेशान न किए जाने की मांग रखी.

यह भी पढ़ें 👉  नदी में डूबने से दंपती की मौत,मार्च में हुए थी शादी

वही कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत ने कहा कि ट्रक मालिकों का किसी भी सूरत में उत्पीड़न नहीं किया जाएगा. साथ ही जो मांगे हमारे स्तर की हैं, उन्हें सॉल्व कर लिया जाएगा. कुछ मांगे जो शासन स्तर की हैं, उन्हें शासन को प्रेषित कर दिया जाएगा. फिलहाल ट्रक यूनियन ने अपनी हड़ताल खत्म कर दी है. ट्रक यूनियन की हड़ताल से कुमाऊं के करीब 2 हजार ट्रकों के पहिये थम गए थे. सबसे ज्यादा असर किसानों को हो रहा था. किसानों के फल और सब्जी की फसल मंडी में सड़ रही थी. इस कारण कुमाऊं में फल-सब्जियों की सप्लाई ठप हो गई थी. किसानों को अपनी फसल के दामों में 75 फीसदी गिरावट करनी पड़ रह रही थी।

यह भी पढ़ें 👉  आपदा मद में ₹13 करोड़ की दूसरी किश्त जारी, जिलाधिकारियों को पुलियाओं, पेयजल लाइनों, सिंचाई नहरों की मरम्मत के निर्देश
Share on whatsapp