logo

पांच दिन बाद भी फौजी नहीं पहुंचा ड़्यूटी पर,30 अप्रैल को हुई थी पत्नी से अंतिम बार बात

खबर शेयर करें -

रिपोर्ट : तनुज तिरूवा

बागेश्वर जिले के कपकोट निवासी एक फौजी छुट्टी बिताने के बाद अपनी ड्यूटी के लिए रवाना हुआ। लेकिन पांच दिन बाद भी वह अपनी ड़्यूटी स्थल तक नहीं पहुंच पाया। 30 अप्रैल को उनकी अंतिम बार अपनी पत्नी से फोन पर बात हुई। इसके बाद से उनका कोई पता नहीं चल रहा है। परिजन परेशान हैं। पत्नी से पुलिस में पति की गुमशुदगी दर्ज कराई है।

कपकोट तहसील के कर्मी मूल व हाल कपकोट निवासी 42 वर्षीय सैनिक रणजीत सिंह पुत्र गोविंद सिंह कुछ दिन पूर्व छुट्टी में घर आए थे। यहां छुट्टी खत्म होने के बाद वो डूयूटी में लौट रहे थे। वह वर्तमान में जम्मू-कश्मीर के रौजौरी 12 कुमाऊं रेजिमेंट में कार्यरत हैं। रणजीत सिंह कपकोट से 30 अप्रैल को 10 बजे लोकल गाड़ी से काठगोदाम के लिए रवाना हुए। जहां से उन्हें जम्मू ट्रैजिड कैंप में रिपोर्ट दर्ज करने थी। यहां उनकी पत्नी दुर्गा देवी ने 30 अप्रैल को 3 बजे शाम को अंतिम बार बात हुई । उसके बाद किसी भी प्रकार से बात नहीं हो पाई। रणजीत सिंह के तीन बच्चे हैं। प्रिया 13, रचना 9 तथा रोहित 7 साल के। तीनों कपकोट में पढ़ते हैं। पति की लोकेशन का पता नहीं चलने से परिजन व बच्चे परेशान है। पत्नी दुर्गा देवी ने कपकोट पुलिस में पति की गुमशुदगी दर्ज कराई है। कपकोट पुलिस ने मामला दर्ज का जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें 👉  एसओजी टीम ने 908 ग्राम चरस के साथ तीन अभियुक्तों को किया गिरफ्तार
Share on whatsapp