logo

देहरादून में गरजे मल्लिकार्जुन खरगे, लोकसभा चुनाव का फूंका बिगुल

खबर शेयर करें -

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के देहरादून पहुंचने पर कांग्रेसियों में ने उनका भव्य स्वागत किया। बन्नू स्कूल ग्राउंड में खरगे के स्वागत के लिए पार्टी के दिग्गज नेताओं के साथ ही कार्यकर्ता व समर्थकों की भीड़ उमड़ पड़ी।

कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव को लेकर आगाज कर दिया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे आज देहरादून पहुंचे। पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने भी राष्ट्रीय अध्यक्ष के इस दौरे को लोकसभा चुनाव के मध्यनज़र महत्वपूर्ण बताया है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के आने से कार्यकर्ताओं और नेताओं में जोश है। कहा कि उनके वचनों को आज दिल में रखकर आगामी लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत अर्जित की जाएगी।

यहां जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने सबसे पहले देरी से पहुंचने के लिए जनता से माफी मांगी। उन्होंने कहा कि देरी इसलिए हुई क्योंकि आजकल उड़ने के लिए भी मोदीजी की परमिशन लेनी पड़ती है। फिर हेलिकॉप्टर में चढ़ने, उतरने, हेलिकॉप्टर लैंडिंग में भी उनकी परमिशन लेनी पड़ती है। वो हम सबको सताते हैं। ताकि लोग लंबा इंतजार करके हमारे भाषण के समय चले जाएं। हमें ऐसी सरकार को हटाना है। आप उत्तराखंड के लोग हिम्मत वाले हैं। पूरे देश को बचाने वाले हैं।

यह भी पढ़ें 👉  वनाग्नि की चपेट में आकर युवक की मौत

हेलिकॉप्टर लैंडिंग की अनुमति नहीं दी गई
बता दें, कि पुलिस लाइन में राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के हेलिकॉप्टर लैंडिंग की अनुमति न मिलने पर गुस्साए कांग्रेसियों ने पुलिस मुख्यालय घेर लिया था। कई घंटे तक बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता, कार्यकर्ता हंगामा करते रहे। मामला संज्ञान में आने के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दखल दिया। उनके दखल से मामला शांत हुआ और अनुमति मिल गई।

शनिवार को कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण करने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना पुलिस लाइन में हेलिकॉप्टर लैंडिंग की स्थिति देखने पहुंचे। जब उन्हें पता चला कि ऐसी कोई अनुमति नहीं है तो उन्होंने एसएसपी अजय सिंह से संपर्क की कोशिश की लेकिन उनके बैठक में व्यस्त होने के चलते बात नहीं हो पाई।

यह भी पढ़ें 👉  पहाड़ी राज्य का अस्तित्व खत्म करने का किया जा रहा है काम,हाईकोर्ट को पहाड़ में ही होना चाहिए शिफ्ट : बॉबी पवार

धस्माना ने बताया कि इसके बाद उन्होंने डीजीपी अभिनव कुमार को फोन किया लेकिन बाहर होने के चलते उन्होंने एडीजी से बात करने को कहा। एडीजी ने मामले में जल्द कार्रवाई का आश्वासन दिया। इस बीच वह बात करते-करते पुलिस मुख्यालय पहुंच गए। वहां बात बनती न देख कांग्रेस अध्यक्ष माहरा व उपाध्यक्ष धस्माना धरने पर बैठ गए।

मामले की जानकारी मिलते ही नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य समेत तमाम नेता पुलिस मुख्यालय पहुंचे। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष आर्य और पुलिस अधिकारियों के बीच तकरार हुई। नाराज कांग्रेस नेताओं ने करीब दो घंटे तक हंगामा किया। धीरे-धीरे पुलिस मुख्यालय के बाहर तक कार्यकर्ताओं की भीड़ जुट गई। मामले की जानकारी मिलने पर सीएम धामी ने नेता प्रतिपक्ष आर्य, प्रदेश अध्यक्ष माहरा से फोन पर बात की। उन्होंने आश्वासन दिया कि कांग्रेस अध्यक्ष के हेलिकॉप्टर की अनुमति दी जाएगी। इसके कुछ ही देर बाद अनुमति मिल गई। इसके बाद कांग्रेसी वहां से चले गए।

यह भी पढ़ें 👉  फर्जी प्रमाण पत्रों से 24 साल से नौकरी कर रहे शिक्षक को किया गया बर्खास्त

अंकिता हत्याकांड पर बोले खरगे
अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर खरगे ने कहा कि हत्या करने वाले को पकड़ नहीं सकते। उन्हें बगल में लिए घूमते हो। ऐसी न जाने कितनी हत्या हुई हैं। किसको मालूम? जोशीमठ में हादसा हुआ, लेकिन हादसों से बचाव की कोई सोच नहीं है। कहा कि ऐसी सरकार को सत्ता से निकालकर फेंकना चाहिए, वरना वो जुल्म करते रहेंगे।

Share on whatsapp