logo

पिथौरागढ़ के कृष्ण कुमार दौड़ के माध्यम से नशामुक्ति का दे रहे है संदेश,13 जिलों में 30,000 लोगों को नशे के खिलाफ करेंगे जागरूक

खबर शेयर करें -

बागेश्वर। पिथौरागढ़ के 15 वर्षीय कृष्ण कुमार दौड़ के माध्यम से नशामुक्ति का संदेश दे रहे हैं। 22 दिन में 600 किमी का लक्ष्य लेकर दौड़ शुरू कर कृष्ण जिला मुख्यालय पहुंचे। यहां डीएम अनुराधा पाल ने किशोर का हौसला बढ़ाकर उसके प्रयास की सराहना की।

मूल रूप से देवलथल निवासी कृष्ण कुमार पिथौरागढ़ के इंटर कॉलेज में दसवीं के छात्र हैं और अच्छे धावक हैं। उनके पिता त्रिलोक सिंह का निधन हो चुका है। माता कमला देवी पालन पोषण कर रही हैं। कृष्ण पिथौरागढ़ से दौड़ शुरू कर मंगलवार को कांडा के घिंघारूतोला पहुंचे थे। बुधवार को घिंघारूतोला से बागेश्वर पहुंचकर उन्होंने डीएम पाल से भेंट की। यहां से दौड़ते वह गरुड़ पहुंचे और राइंका गरुड़ में छात्र-छात्राओं को नशा न करने की शपथ दिलाई। गरुड़ से वह ग्वालदम की ओर रवाना हो गए। घनश्याम ओली चाइल्ड वेलफेयर सोसायटी पिथौरागढ़ सोसायटी के अजय ओली टीम के साथ कृष्ण के साथ चल रहे हैं। उन्होंने बताया कि कृष्ण ने रोजाना 40 किमी दौड़ने का लक्ष्य रखा है। वह प्रदेश के सभी 13 जिलों में 30,000 लोगों को नशे के खिलाफ जागरूक करेंगे। देहरादून में बाल कल्याण मंत्री से मिलकर वह अपने अभियान का समापन करेंगे। यात्रा में सूरज कुमार, रवि बोहरा भी सहयोग कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  किवी उत्पादन व ताम्र उद्योग से बढ़ेगा स्वरोजगार: आर सी तिवारी
Share on whatsapp