logo

धारचूला के रांथी गांव में काली नदी के तेज बहाव में तीन मकान बहे

खबर शेयर करें -

पिथौरागढ़ जिले में धारचूला क्षेत्र के रांथी गांव में काली नदी का जलस्तर बढ़ने से तीन मकान बह गए । हांलांकि, उनमें से केवल एक मकान में ही लोग रह रहे थे और उन्हें भी पूर्व में ही अन्यत्र स्थानांतरित किया जा चुका था।

उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में अतिवृष्टि का कहर जारी है और पिथौरागढ़ जिले आज धारचूला खोतिला क्षेत्र में अब तक तीन मकान काली नदी में समा चुके हैं, इसके साथ ही जनपद भर में जगह जगह पर मूसलाधार बारिश जारी है जिसके चलते महाकाली नदी का जलस्तर वार्निंग लेवल पर बह रहा है सुरक्षा की दृष्टि से सभी लोगों को पहले ही नदी किनारे न जाने की अपील की गई है आपदा विभाग पिथौरागढ़ से प्राप्त जानकारी के अनुसार पिथौरागढ़ जनपद भर में लगातार हो रही बारिश के चलते जगह-जगह मलवा भूस्खलन होने के कारण 11 सड़क मार्ग बंद पड़े हैं वही आपदा विभाग से मिली जानकारी के अनुसार अब तक धारचूला खोतिला क्षेत्र में तीन मकान नदी में समा चुके हैं। जिसमें कोई जनहानि वह कोई पशुहानि नहीं हुई है, खराब मौसम के चलते पहले ही मकानों को खाली करवा दिया था फिलहाल जिला प्रशासन की ओर से राजस्व की टीम घटना क्षेत्र में मौजूद है

यह भी पढ़ें 👉  एसओजी टीम ने 908 ग्राम चरस के साथ तीन अभियुक्तों को किया गिरफ्तार
Share on whatsapp