logo

बागेश्वर में कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने अंकिता भंडारी को दी श्रद्धांजलि, भाजपा सरकार पर अंकिता के कातिलों को बचाने का लगाया आरोप

खबर शेयर करें -

बागेश्वर में कांग्रेस द्वारा अंकिता भंडारी हत्याकांड के एक साल पूरे होने पर गांधी पार्क पर एकत्रित होकर अंकिता भंडारी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर मोमबत्ती जलाकर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश की भाजपा सरकार से अंकिता भंडारी के कातिलों को सख्त सजा देने की मांग की । उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा एक कॉलेज का नाम अंकित भंडारी के नाम पर रखकर अंकिता भंडारी के कातिलों को बचाने का प्रयास कर रहे है। परंतु अंकिता भंडारी के कातिल जब तक फांसी नहीं चढ़ते तब तक कांग्रेस अंकिता को न्याय दिलाने के लिए काम करती रहेगी।उन्होंने बताया कि आज प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरीके से चरमा चुकी है प्रदेश में महिलाएं सुरक्षित नहीं है। अंकिता भंडारी जैसे कई केस है जो लोगों के सामने नहीं आ पाए हैं। प्रदेश की सरकार पूरी तरह से फेल हो चुकी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सरकार द्वारा अपने सफेद पोष नेताओं को बचाने का काम किया जा रहा है जो कामयाब नहीं होगा। उन्होने कहा कि अंकिता भंडारी हत्याकांड को एक साल पूरा हो चुका है। एक साल बाद भी परिजनों के लिए इंसाफ अधूरा है। अब अंकिता भंडारी के नाम पर सियासत भी शुरू हो गई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अंकिता भंडारी की याद में कॉलेज का नाम रखने की घोषणा की। सरकार ने पौड़ी जनपद के डोभ श्रीकोट राजकीय नर्सिंग कॉलेज का नाम अंकिता भंडारी के नाम पर करने का फैसला किया है। उन्होने आरोप लगाया कि सरकार अभी तक वीआईपी के नाम का अभी तक खुलासा नहीं कर पाई है। अंकिता भंडारी के हत्यारों को सजा भी नहीं मिली है। आरोपियों को वीआईपी ट्रीटमेंट दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जब तक अंकिता भंडारी को न्याय नहीं मिल जाता तब तक कांग्रेस का आंदोलन जारी रखेगा। इस मौके पर पूर्व विधायक ललित फर्सवाण, महिला कांग्रेस अध्यक्ष गोपा धपोला, पूजा आर्या, रेखा देवी,गौरव परिहार,कुंदन गोश्वामी आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  प्रदेश में चुनाव प्रचार का थमा शोर, अब डोर डोर चलेगा प्रचार
Share on whatsapp