logo

जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने इमरजेंसी कक्ष में मरीजों की करी जांच, मांग नही माने जाने पर पूर्ण बहिस्कार दी चेतावनी

खबर शेयर करें -

जिला अस्पताल में सीएमएस और चिकित्सकों के बीच विवाद के बाद कक्ष में चिकित्सकों ने ओपीडी का बहिस्कार कर बनाई इमरजेंसी में अस्थाई ओपीडी।

अस्पताल में मरीजों की भीड़, नाराज चिकित्सकों ने अपना केबिन छोड़ इमरजेंसी कक्ष में शुरू की ओपीडी। इमरजेंसी में ही सभी मरीजों की जांच कर रहे हैं सभी चिकित्सक। 300 से अधिक मरीज व तीमारदार अस्पताल परिसर में मौजूद।

यह भी पढ़ें 👉  16 हजार फीट की ऊंचाई पर मां नंदा आनंदेश्वरी की अष्टधातु की मूर्ति होगी स्थापित

चिकित्सक संघ के अध्यक्ष डॉ गिरजा शंकर जोशी ने बताया कि उनकी मांग पर अब तक कोई भी विचार नहीं किया गया है ना ही अभी तक कोई भी जांच शुरू की गई है। उन्होंने कहा कि जब तक उनकी मांग नहीं मानी जाएगी वह अपने बहिष्कार को पर कायम रहेंगे उन्होंने कहा कि मरीजों की परेशानी को देखते हुए सभी चिकित्सकों के द्वारा इमरजेंसी कक्ष में मरीजों की जांच की जा रही है होने कहा कि अगर उनकी मांग पर फिर भी कोई विचार नहीं किया गया तो वह पूर्ण बहिष्कार के लिए बाध्य होंगे।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस पार्टी ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिसद पर शासकीय तथा अशासकीय विद्यालयों में सदस्यता अभियान चलाने पर कार्यवाही की मांग की
Share on whatsapp