logo

डीएलएड शिक्षक भर्ती की होगी जांच, उत्तराखंड के स्थाई और मूल निवासी ही भर्ती में होंगे शामिल

खबर शेयर करें -

देहरादून। उत्तराखंड में बेसिक शिक्षकों के 2,917 पदों पर चल रही शिक्षक भर्ती में अन्य प्रदेशों से गलत तथ्यों के आधार पर डीएलएड कर भर्ती में शामिल होने के मामले की जांच होगी। शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि शिक्षक भर्ती में आने वाले इस तरह के आवेदन रद्द किए जाएंगे। उत्तराखंड के मूल एवं स्थानीय युवा ही शिक्षक भर्ती में शामिल किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें 👉  पिथौरागढ़ के कृष्ण कुमार दौड़ के माध्यम से नशामुक्ति का दे रहे है संदेश,13 जिलों में 30,000 लोगों को नशे के खिलाफ करेंगे जागरूक

प्रदेश में चल रही शिक्षकों की भर्ती में बाहरी राज्यों से डीएलएड करके आने वाले अभ्यर्थियों के प्रमाणपत्रों की जांच होगी। शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत का कहना है कि यदि कोई यूपी का मूल निवासी बताकर गलत तथ्यों के आधार पर डिप्लोमा ले आता है तो उसके आवेदन को रद्द किया जाएगा। शिक्षा विभाग के अधिकारियों के इस संबंध में निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  जिलाधिकारी ने आरे के पास पहाड़ी पर पड़ी दरारों का किया निरीक्षण, भूगर्भ वैज्ञानिकों से सर्वे कराने के दिए निर्देश

मंत्री ने कहा, शिक्षक भर्ती में राज्य के युवाओं के हित प्रभावित नहीं होने दिए जाएंगे। दरअसल पूरा मामला डीएलएड के फर्जीवाड़े से जुड़ा है।

Share on whatsapp