logo

ऐतिहासिक उत्तरायणी मेले से पूर्व बागेश्वर व्यापार मंडल करेगा अनिश्चितकालीन बाजार बंद

खबर शेयर करें -

बागेश्वर – सरयू नदी में बने झूला पुल में आवाजाही शुरू नहीं होने पर नगर के व्यापारियों ने कड़ी आपत्ति जताई है। बैठक कर विरोध में 13 से अनिश्चितकालीन बाजार बंद का निर्णय लिया है। साथ ही 9 को एक दिन का बाजार बंद करने का निर्णय लिया। इसी दिन नगर में विशाल जुलूस निकाला जाएगा और शासन-प्रशासन का पुतला दहन होगा।

बागनाथ मंदिर परिसर में आयोजित बैठक में व्यापार मंडल अध्यक्ष की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में वक्ताओं ने कहा कि उत्तरायणी मेला एक व्यापारिक, सांस्कृतिक व ऐतिहासिक मेला है, लेकिन झूला पुल बंद होने से यहां के व्यापारियों का कारोबार चौपट हो गया है। व्यापारी लंबे समय से इसे खोलने की मांग कर रहे हैं, लेकिन प्रशासन उन्हें बरगलाने में लगा है। बैठक में तय किया कि 13 जनवरी से अनिचितकालीन बाजार बंद रखा जाएगा। इससे पहले नौ जनवरी को सांकेतिक संपूर्ण रूप से बाजार बंद किया जाएगा। सभी व्यापारी सुबह नौ बजे नुमाईशखेत मैदान में पहुंचेंगे। यहां से जुलूस निकाला जाएगा। एसबीआई तिराहे पर पहुंचकर शासन तथा प्रशासन का पुतला दहन होगा। इसके बाद भी यदि पुल नहीं खोला गया तो सभी व्यापारी उत्तरायणी मेले का बहिष्कार करेंगे। इसकी पूरी जिम्मेदारी शासन व प्रशासन व जनप्रतिनिधियों की होगी। मेडिकल स्टोरों को छोड़कर सभी दुकानें बंद रहेंगी। इस मौके हरीश लाल साह, जगदीश कार्की, जगदीश नेगी, किशन राम, खुशाल दानू, नंद किशोर जोशी, किसन सोनी, तारा दत्त तिवारी, गोविंद जगाती, रविंद्र साह, शिव गिरी, उदित रस्तोगी, अर्जुन, मोहित खेतवाल, शशांक कांडपाल समेत 50 से अधिक व्यापारी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  नदी में डूबने से दंपती की मौत,मार्च में हुए थी शादी
Share on whatsapp