logo

पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय में 135 उपनिरीक्षक प्रशिक्षुओं प्रशिक्षण हुआ संपन्न

खबर शेयर करें -

पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय में 135 उपनिरीक्षक प्रशिक्षुओं की 6 माह के पदोन्नति प्रशिक्षण का समापन हो गया है. समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड अशोक कुमार ने पासिंग आउट परेड की सलामी ली. डीजीपी ने दरोगाओं को उनके अधिकारों और जिम्मेदारियों के बारे में बताया.

पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार का कार्यक्रम में पहुंचने पर पुलिस बैंड की मधुर धुन के साथ देश भक्ति से ओत-प्रोत गीत के साथ स्वागत किया गया. पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने परेड का निरीक्षण किया और सलामी ली. अशोक कुमार ने उच्च कोटि की पासिंग आउट परेड की प्रशंसा करते हुए कहा कि पुलिस के लिए चुनौतियां बहुत हैं. इन चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए खाकी वर्दी की बदौलत पावर, हथियार और कानून को इस्तेमाल करने की इजाजत मिलती है. मगर ये अधिकार पीड़ित केंद्रित पुलिसिंग कार्रवाई के लिए प्रयोग में लाये जाने चाहिए.

यह भी पढ़ें 👉  झूठा मुकदमा दर्ज कराने पर न्यायालय ने पूर्व मुख्य कृषि अधिकारी बागेश्वर पर लगाया दो लाख का जुर्माना

डीजीपी ने कहा कि पुलिस को आंतरिक सुरक्षा की चुनौतियों के अलावा और भी चुनौतियों के लिए हर वक्त तैयार रहना चाहिए. डीजीपी अशोक कुमार ने पुलिस द्वारा कांवड़ यात्रा सहित टूरिस्ट और तीर्थ यात्रियों की सुरक्षा, बरसात के दिनों में आपदा और चारधाम यात्रा को बखूबी निपटाए जाने की भूरि भूरि प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि उन्हें आतंकवाद, नक्सलवाद, सांप्रदायिकता से बखूबी निपटने के लिए तैयार रहना चाहिए और पीड़ितों के लिए मित्र पुलिस की भूमिका साकार करनी चाहिए.

यह भी पढ़ें 👉  न्यायालय ने रिश्वत लेने के मामले में पटवारी को सुनाई तीन साल के कठोर कारावास की सजा, 25 हजार का लगाया जुर्माना

इस मौके पर उपनिरीक्षक प्रशिक्षुओं में बड़ा उत्साह देखने को मिला. कार्यक्रम के बाद उन्होंने नाच-गाने के साथ खुशी मनाई. उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान उन्हें जो भी तालीम दी गई है उसे वे अपनी तैनाती स्थल पर अपने कौशल कार्यों के दम पर मित्र पुलिस की भूमिका को व्यवहार में बदलने को कृत संकल्प रहेंगे. प्रशिक्षण में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले प्रशिक्षु अमनदीप सिंह, पूरन सिंह, नरेश सिंह, राजेंद्र सिंह, पंकज डंगवाल व महेंद्र सिंह जीना को डीजीपी के हाथों मेडल देकर पुरस्कृत किया गया.

यह भी पढ़ें 👉  एसओजी टीम ने 908 ग्राम चरस के साथ तीन अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

इस मौके पर पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय के निदेशक ददन पाल, जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नवनीत सिंह भुल्लर, अपर पुलिस अधीक्षक शेखर चंद्र सुयाल और पुलिस उपाधीक्षक सुरेंद्र प्रसाद बलूनी सहित बड़ी संख्या में पुलिस अधिकारी व गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे.

Share on whatsapp