logo

युवक ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर अतिक्रमण को लेकर की शिकायत, बदले में नगरपालिका ने पिता का लाइसेंस और टेंडर किया निरस्त

खबर शेयर करें -

एक युवक ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर एनएच 58 विजयलक्ष्मी होटल के पास अतिक्रमण को लेकर शिकायत की। जिस पर नगरपालिका देवप्रयाग ने नाराजगी जताते हुए युवक के पिता का ठेकेदारी लाइसेंस और टेंडर ही निरस्त कर दिया। नगरपालिका की इस प्रकार की कार्रवाई पर युवक ने मुख्यमंत्री और जिलाधिकारी को ज्ञापन भी भेजा है।

बता दे कि 19 जून को देवप्रयाग निवासी अंकित ध्यानी ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर देवप्रयाग के पास विजयलक्ष्मी होटल के सामने कुछ लोगों द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग पर ठेली लगाने को लेकर शिकायत की। उनका कहना था कि इस स्थान पर कई बार वाहनों की टक्कर हो चुकी है। ऐसे में इस मोड़ पर अतिक्रमण को हटाया जाये। जिस पर मुख्यमंत्री पोर्टल से शिकायतकर्ता को नगरपालिका में शिकायत दर्ज करने को कहा गया।

शिकायतकर्ता अंकित ने बताया वह इस सम्बंध में कई बार नगरपालिका को बता चुका है। वहां से कोई भी कार्रवाई नहीं की जा रही है। जिस पर मुख्यमंत्री कार्यालय से नगर पालिका प्रशासन से जवाब मांगा गया। जवाब मांगे जाने से गुस्साये पालिका अधिकारियों ने 20 जून को अंकित के पिता सुशील ध्यानी का ठेकेदारी लाइसेंस और टेंडर निरस्त करने का नोटिस भेज दिया गया। और पत्र में लिखा गया आपके बेटे ने उच्चाधिकारियों से बेवजह नगरपालिका की शिकायत की जिसके कारण नगरपालिका आपका रजिस्ट्रेशन और टेंडर निरस्त करती है।

नगर पालिका परेशानी को दूर करने के बजाए शिकायत कर्ता को परेशान करने का काम कर रही है।

Share on whatsapp