logo

जिस अपराधी को दो साल पहले घोषित किया चुका था मृत,उसे पुलिस ने किया जिंदा गिरफ्तार

खबर शेयर करें -

पिथौरागढ़ जिले से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। न्यायालय ने जिस अपराधी को दो साल पहले मृत घोषित कर दिया था। उस अपराधी को पुलिस ने आज गिरफ्तार किया है। इससे पहले अपराधी को मृत घोषित कर उसका मृत्यु प्रमाण पत्र भी परिजनों को थमा दिया गया था। अब वो जिंदा मिला है।

बीते 14 अप्रैल 2008 को पिथौरागढ़ के गांधी चौक निवासी एक शख्स ने कोतवाली पिथौरागढ़ में एक तहरीर सौंपी थी। जिसमें शख्स ने आरोप लगाया था कि पिथौरागढ़ के ही पुनेड़ी महर निवासी दिनेश चंद्र पुनेठा पुत्र जीवन चंद्र पुनेठा ने उसके साथ 2 लाख 75 हजार रुपए की धोखाधड़ी की है। जिस पर कोतवाली पुलिस ने धारा 409 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। मुकदमा दर्ज होने की भनक लगते ही आरोपी इलाका छोड़ फरार हो गया। जिसकी गिरफ्तारी के लिए 24 मार्च 2009 को पिथौरागढ़ पुलिस ने 2 हजार रुपए का इनाम घोषित किया।

न्यायालय ने 21 मार्च 2009 को आरोपी को भगौड़ा घोषित कर दिया। पिथौरागढ़ पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए कई बार संभावित स्थानों पर दबिश दी। आरोपी पुलिस के हाथ नहीं लग पाया। इसी बीच आरोपी को दो साल पहले यानी 10 मार्च 2022 को न्यायालय के आदेश पर उसे मृत घोषित कर दिया गया। जिसका मृत्यु प्रमाण पत्र भी उनके परिजनों को दे दिया गया।

लोकसभा चुनाव को लेकर भगौडे आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए चलाए जा रहे। अभियान के तहत पुलिस की टीम ने आरोपी दिनेश चंद्र पुनेठा को चिमसियानौला से गिरफ्तार कर लिया। जिसे अब न्यायालय के पेश कर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

Share on whatsapp