logo

पिंडारी बुग्याल में भेड़ प्रजनन केन्द्र के कर्मचारी की हालत गंभीर,रेस्क्यू टीम पहुंची फुरकिया

खबर शेयर करें -

बागेश्वर के पिंडारी के पास बुग्यालों में लगभग 600 भेड़ों को चुगान पर ले गए पशु विभाग के भेड़ प्रजनन केंद्र के दो कर्मचारी में से एक कर्मचारी का स्वास्थ्य बिगड़ गया है। उसके साथी ने बमुश्किल इसकी सूचना अपने विभाग को दी। इसकी सूचना मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ने आपदा विभाग में दी। सूचना मिलते ही जिलाधिकारी ने एसडीआरएफ, एनडीआरएफ, मेडिकल टीम, पशुपालन टीम, राजस्व टीम के साथ ही आपदा प्रबंधन टीम को मौके पर रवाना कर दिया है। सूचना मिलने तक टीम पिंडारी से छह किलोमीटर पहले फुरकिया में पहुंच गई है।

यह भी पढ़ें 👉  16 हजार फीट की ऊंचाई पर मां नंदा आनंदेश्वरी की अष्टधातु की मूर्ति होगी स्थापित

बीते 10 जून को भेड़ प्रजनन केन्द्र शामा और कर्मी से भेड़ों को बुग्यालों में चुगान के लिए केन्द्र से दो कर्मी पिंडारी बुग्याल गए थे। इस बीच केन्द्र का एक कर्मचारी अनिल कुमार का स्वास्थ्य अचानक खराब होने लगा। जिसकी सूचना मिलने पर रेस्क्यू टीम आवश्यक उपकरण तथा खाद्यय सामग्री के साथ फुरकिया तक पहुंच गई है। यह टीम प्रातः जीरो पॉंइट पहुंच जाएगी।

जिला आपदा विभाग द्वारा रेस्क्यू के लिए हेलीकॉप्टर भेजने के लिये धारचूला में तैनात हेली के सम्बंध में बात की लेकिन खराब मौसम की वजह से हेली के द्वारा रेस्क्यू सम्भव नही हो सका। मौसम साफ रहने पर हेली से भी रेस्क्यू करने का प्रयास किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस पार्टी ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिसद पर शासकीय तथा अशासकीय विद्यालयों में सदस्यता अभियान चलाने पर कार्यवाही की मांग की

प्रभारी मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ कमल पंत ने बताया की 10 जून को भेड़ प्रजनन केंद्र शामा से 267 और कर्मी से 333 भेड़ो को कर्मचारी पिंडारी ग्लेशियर क्षेत्र के बुग्याल ले गए थे। बुग्याल में चुगान से भेड़ों को अच्छी ग्रोथ मिलती है। वहां की घास और जड़ी बूटी खाने से भेड़ों को लाभ मिलता है। बाकी रोगों से भी बचते है।इसलिए भेड़ों को वहा ले जाया जाता है।

यह भी पढ़ें 👉  एसओजी टीम ने 908 ग्राम चरस के साथ तीन अभियुक्तों को किया गिरफ्तार
Share on whatsapp