logo

दिव्यांशी जखवाल का व्यवहारिक शिक्षा पर लिखा लेख पीएम मोदी को आया पसंद

खबर शेयर करें -

बागेश्वर की बेटी ने प्रधानमंत्री की परीक्षा पर चर्चा में हिस्सा लेने के बाद शिक्षा व्यवस्था पर व्यवहारिक शिक्षा पर एक लेख लिखा। उनका यह लेख प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बहुत पसंद आया है उन्होंने बागेश्वर की बेटी को इसके लिए धन्यवाद पत्र भी भेजा है। बता दें कि वैटेज हॉल स्कूल द येलो ब्रीके डोंगा देहरादून में पढ़ने वाली बागेश्वर की दिव्यांशी जखवाल पुत्री मनीष जखवाल के नाम भेजे पत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिखा है कि प्रिय दिव्यांशी जखवाल स्नेह आशीष। परीक्षा पर चर्चा में हिस्सा लेने और इस विषय पर अपने विचार साझा करने के लिए आपका धन्यवाद। आप जैसे युवा साथियों के विचारों को जानना समझना हमें उत्साहजनक होता है। आज भी युवा पीढ़ी की उर्जा आत्मविश्वास क्षमताओं को देखकर मुझे अत्यंत गर्व होता है इस युवा शक्ति ने हमारे देश की आशाएं आकांक्षाएं जुड़ी हुई हैं युवाओं के सामने आज संभावनाओं व अवसरों के असीमित द्वार खुले हैं। प्रौद्योगिकी, चिकित्सा, नवाचार, खेलकूद व स्टार्टअप जिस भी क्षेत्र में आप अपना भविष्य बनाना चाहते हैं उसके लिए सुविधाओं और संसाधनों की कोई कमी नहीं है। अगले 25 साल भारत का अमृत कालखंड है जिसमें एक भव्य विकसित और ससमर्थ राष्ट्र के निर्माण का संकल्प लेकर हम आगे बढ़ रहे हैं। यह 25 साल आपकी शिक्षा आपके कैरियर आपके व्यक्तित्व निर्माण के दृष्टिकोण से भी अत्यंत महत्वपूर्ण होने वाले हैं। आप जैसे-जैसे अपने भविष्य को बनाते रहेंगे उससे दोनों को नई दिशा मिलती रहेगी। मुझे पूरा विश्वास है कि भारत की युवा शक्ति अपनी व्यक्तिगत संकल्पो के साथ देश के संकल्पों को भी जोड़ कर राष्ट्र को प्रगति की कई ऊंचाइयों पर ले जाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। आप भी जीवन की हर परीक्षा में सफलता प्राप्त करें इस विश्वास के साथ आपके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं।

यह भी पढ़ें 👉  केदारनाथ में वीआईपी दर्शन का तीर्थ पुरोहितों ने किया विरोध, सभी के लिए समान व्यवस्था की करी मांग
Share on whatsapp