logo

मिनीस्टीरियल कर्मचारियों का आंदोलन हुआ तेज, गेट मीटिंग कर जताया विरोध

खबर शेयर करें -

उत्तरांचल फेडरेशन ऑफ मिनीस्टीरियल सर्विसेस का आंदोलन तेज हो गया है। बागेश्वर में लोनिवि कार्यालय में कर्मचारियों ने काला फीता बाधकर गेट मीटिंग कर विरोध जताया। कर्मचारी पदोन्नति में शिथिलीकरण समेत पुरानी एसीपी का लाभ देने की मांग कर रहे हैं। मिनिस्टीरियल कर्मचारी कठायतबाढ़ा लोनिवि और विकास भवन में एकत्र हुए। सभी कर्मचारियों ने काला फीता बाधकर गेट मीटिंग करी। और मांगों के समर्थन में नारेबाजी कर विरोध जताया।

यह भी पढ़ें 👉  मंदिर से दर्शन कर वापस आ रही कार खाई में गिरी,महिला की मौत

जिला अध्यक्ष अनिल जोशी ने बताया कि पदोन्नति में शिथिलीकरण समेत 21 सूत्रीय मांग पत्र पर अभी तक कोई सकारात्मक कार्यवाही नहीं की गई है। उनके द्वारा लगातार सरकार को ज्ञापन दिए गए है लेकिन आश्वाशन के अलावा कुछ नही मिल रहा है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार उनकी मांगों के निस्तारण को लेकर अपना रुख नहीं बदलती है। तो आंदोलन को तेज किया जाएगा। अभी वह चरण बद्ध आंदोलन के करते हुए 30 नवंबर तक काला फीता बाधकर गेट मीटिंग कर विरोध जता रहे है है। उसके बाद 7 दिसंबर को एक दिवसीय धरना दिया जाएगा और सीएम को ज्ञापन भेजा जाएगा। 14 दिसंबर को चेतना रैली निकाली जाएगी। उसके बाद अनिश्चितकालीन धरना दिया जाएगा। ऐसे में किसी भी विपरीत स्थिति की जिम्मेदारी सीधे सरकार की होगी। इस मौके पर जिला महामंत्री भुवन जोशी,के सी मिस्रा,जय दत्त पांडे,धर्म सिंह लमगड़िया,राजेंद्र सिंह बिष्ट,सूरज कुमार, गोकुल कुमार,संतोष जोशी,राजेंद्र पाठक, हेम चन्द्र पांडेय, रेणुका भेसोड़ा आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  सीएम धामी ने वनाग्नि को लेकर की बैठक, नोडल अधिकारी किए नामित
Share on whatsapp