logo

रणजी ट्रॉफी मेंउत्तराखंड के लिए हैट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज बने बागेश्वर के दीपक धपोला

खबर शेयर करें -

पुडुचेरी के खिलाफ उत्तराखंड क्रिकेट टीम को अपने तीसरे रणजी ट्रॉफी मैच में हार का सामना करना पड़ा। बल्लेबाजों के निराशाजनक प्रदर्शन के चलते पुडुचेरी ने उत्तराखंड को 55 रनों से हराया। हालांकि गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। बागेश्वर निवासी दीपक धपोला ने दूसरी पारी में हैट्रिक जमाई और इतिहास रचा दिया। दीपक धपोला उत्तराखंड के लिए रणजी ट्रॉफी में हैट्रिक जमाने वाले पहले गेंदबाज बन गए हैं। पुडुचेरी के खिलाफ दूसरी पारी के 36वें ओवर में दीपक धपोला ने हैट्रिक जमाई। उन्होंने दूसरी गेंद पर फाबिद अहमद, तीसरी गेंद पर कृष्णा और चौथी गेंद पर सागर उदेशी को पवेलियन भेजकर उत्तराखंड के लिए इतिहास रचा।

साल 2018 से घरेलू क्रिकेट सीजन में शिरकत कर रही उत्तराखंड टीम के लिए रणजी ट्रॉफी में इससे पहले किसी गेंदबाज ने हैट्रिक नहीं जमाई थी, हालांकि 2019-2020 सीजन में स्पिनर मयंक मिश्रा ने गोवा के खिलाफ सैयद मुश्ताक अली टी-20 ट्रॉफी में हैट्रिक जमाई थी।

दीपक धपोला ने 2018 में उत्तराखंड के लिए डेब्यू किया था। दीपक धपोला ने 2018-2019 रणजी ट्रॉफी सीजन में भी कमाल किया था। वो टीम के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बनें थे। दीपक धपोला साल 2018-2019 सीजन में शानदार फॉर्म में रहे थे। उन्होंने 8 मैच में कुल 45 विकेट लिए थे। एक मैच में उन्होंने 12 विकेट लिए थे, जो आज भी उत्तराखंड के लिए रिकॉर्ड है। दीपक धपोला उत्तराखंड के लिए सबसे पहले रणजी ट्रॉफी में 50 विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। इसके अलावा उत्तराखंड से दलीप ट्रॉफी खेलने वाले भी वो पहले खिलाड़ी हैं।

दीपक ने अब तक 22 फर्स्ट क्लास मैच खेल चुके हैं, जिसमें उन्होंने 94 विकेट अपने नाम किए हैं। दीपक ने 9 बार एक पारी में 5 विकेट और 3 बार मैच में 10 विकेट झटके हैं। दीपक धपोला शानदार लय में है। इस सीजन में ( 2023-2024) हिमाचल के खिलाफ उन्होंने मैच में 9 विकेट झटके थे। वहीं पुडुचेरी के खिलाफ उन्होंने पहली पारी में एक और दूसरी पारी में 6 विकेट झटके। दीपक के आंकड़े बता रहें हैं कि वो क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड टीम की गेंदबाजी क्रम को लीड कर रहे हैं। फैंस को लगता है कि गेंदबाजों की तरह बल्लेबाज भी अगर रंग में लौट गए तो ये टीम रणजी ट्रॉफी में जरूर कमाल करेगी।

Share on whatsapp