logo

कन्यादान से पहले बेटियों को विद्यादान की बात करने वाली भाजपा सरकार में बेटियां नही सुरक्षित : भगवत सिंह डसीला

खबर शेयर करें -

कांग्रेस जिलाध्यक्ष भगवत सिंह डसीला ने कहा कि कन्यादान से पहले बेटियों को विद्यादान की बात करने वाली भाजपा सरकार में बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। उन्होंने कहा कि अंकिता हत्यकांड उन्हीं के नेता शामिल हैं। उन्हें सजा देने के बजाए सरकार सबूत मिटाने में लगी है। इस आशय का उन्होंने राज्यपाल को ज्ञापन भी भेजा है।


पार्टी कार्यालय में मंगलवार को आयोजित वार्ता में डसीला ने कहा कि 19 सितंबर 2022 को अंकिता हत्याकांड हुआ। तब से लेकर आज तक सरकार ने इस घटना का खुलासा नहीं किया है, जबकि मतृता के परिजन भाजपा के नेताओं को इसका जिम्मेदार मान रहे हैं। इतना ही नहीं मृतका के पिता ने अपने पत्र में भाजपा नेता का नाम भी उल्लेख कर दिया है। कांग्रेस मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रही है, लेकिन सरकार अपने नेता को बचाने के लिए जो हो सकता है उसे कर रही है। सबूत मिटाने के लिए रिसॉर्ट में बुल्डोचर चलवा दिया। घटना को अंजाम देने वालों के मोबाइल फोन तक गायब करवा दिए हैं। उन्होंने जिस भाजपा नेता का नाम सामने आ रहा है उसके खिलाफ कार्रवाई कर बेटी अंकिता को न्याय देने की मांग की है। इसके बाद कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर राज्यपाल के नाम ज्ञापन भेजा है। इस मौके पर गोपा धपोला, गिरीश कोरंगा, कुंदन गिरी, किशन कठायत, ललित बिष्ट, नवीन साह, लक्ष्मी धर्मशक्तू आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  न्यायालय ने रिश्वत लेने के मामले में पटवारी को सुनाई तीन साल के कठोर कारावास की सजा, 25 हजार का लगाया जुर्माना
Share on whatsapp