logo

बालगीत और नृत्य नाटिका में बागेश्वर डायट को मिला पहला स्थान

खबर शेयर करें -

जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण सभागार में आयोजित प्रदेश के पहले राज्य स्तरीय सांस्कृतिक समागम प्रतियोगिता का समापन हो गया है। प्रतियोगिता में सात जिलों के डायट से 56 डीएलएड प्रशिक्षुओं और प्रशिक्षकों ने भागीदारी की। सांस्कृतिक समागम में बागेश्वर डायट के प्रशिक्षुओं ने शानदार प्रदर्शन करते हुए नृत्य नाटिका और बालगीत में पहला स्थान हासिल किया। लोकगीत में नैनीताल जिले की भीमताल डायट, लोक नृत्य में देहरादून डायट और समूह गीत में चंपावत डायट की टीम पहले स्थान पर रहीं।

यह भी पढ़ें 👉  चंपावत में युवक में माँ सहित तीन लोगों पर चाकू से किया हमला,खुद भी हुआ गंभीर घायल हुई मौत

समापन समारोह के मुख्य अतिथि कपकोट के विधायक सुरेश गढि़या ने विजेता और उपविजेता प्रतिभागियों को प्रमाणपत्र और पुरस्कार देकर सम्मानित किया। उन्होंने डायट की संकल्पना की सराहना की। प्रदेश स्तरीय सांस्कृतिक समागम को कला, संस्कृति और परंपराओं के संरक्षण के लिए अच्छा कदम बताया। विशिष्ट अतिथि सीईओ जीएस सौन ने सभी प्रतिभागियों के प्रयासों की सराहना की। कार्यक्रम को शिक्षा के क्षेत्र में की गई सकारात्मक पहल बताया। कार्यक्रम समन्वयक रवि कुमार जोशी ने दो दिवसीय कार्यक्रम की संक्षिप्त रिपोर्ट प्रस्तुत की। डायट प्राचार्य डॉ. मनोज कुमार पांडेय ने आभार जताया।

यह भी पढ़ें 👉  राज्य में अवैध खनन पर लगाम लगाने के लिए बड़ा फैसला

प्रतियोगिताओं के निर्णायक रंगकर्मी रतन सिंह किरमोलिया, नृत्यांगना नेहा बघरी मेहता और संगीतज्ञ राजेंद्र प्रसाद थे। इस मौके पर डॉ. राजीव जोशी, डॉ. सीएम जोशी, डॉ. हरीश जोशी, कैलाश प्रकाश चंदोला, डॉ. भैरव दत्त पांडेय, डॉ. मनोज चौहान, डॉ. संदीप कुमार जोशी समेत विभिन्न प्रशिक्षण संस्थानों से आए प्रवक्ता मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें 👉  आपदा मद में ₹13 करोड़ की दूसरी किश्त जारी, जिलाधिकारियों को पुलियाओं, पेयजल लाइनों, सिंचाई नहरों की मरम्मत के निर्देश
Share on whatsapp